नेता क्षमा करें कविता व्याख्या सहित रघुवीर सहाय

नेता क्षमा करें कविता व्याख्या सहित नीचे लिखी जा रही है | neta ji kshama karen नेता क्षमा करें व्याख्या सहित   लोगों मेरे देश के लोगों और इनके नेताओं मैं सिर्फ एक कवि हूं मैं तुम्हें रोटी नहीं दे सकता न उसके साथ खाने के लिए गम न मैं मिटा सकता…